मध्य प्रदेश पंचायत चुनाव

मध्य प्रदेश पंचायत चुनाव 2021: जमानत राशि, प्रमुख चरण और महत्वपूर्ण तिथियाँ

Share this article

पंचायत चुनाव 2021: मध्य प्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग ने शनिवार को पंचायत चुनाव की तारीख का ऐलान कर दिया है। राज्‍य निर्वाचन आयोग (State election commission) के अनुसार आयुक्‍त बसंत प्रताप सिंह ने शनिवार शाम को राज्‍य में ग्राम पंचायतों के चुनाव की घोषणा की है।

निर्वाचन के प्रमुख बीपी सिंह के मुताबिक, चुनाव तीन चरणों में होने जा रहा है –

  • चुनाव का पहला चरण 6 जनवरी 2022 को होगा
  • दूसरा चरण 28 जनवरी और
  • तीसरा चरण पंचायत चुनाव 16 फरवरी को होगा।

पंचायत चुनाव में पंच और सरपंच को छोड़कर मतदान EVM से ही कराए जाने की घोषणा की गयी है।

Sponsored Post
Sponsored

तीनों तारीख को राज्‍य के निर्वाचक – पंचायत, ब्‍लॉक और जिले की पंचायतों के प्रतिनिधियों के लिए वोटिंग कर सकते है। राज्‍य निर्वाचन आयोग द्वारा पंचायत चुनाव की घोषणा होते ही अचार संहिता लागू कर दी गई हैं।

मध्‍य प्रदेश में 22 हजार 695 ग्राम पंचायतों में चुनाव होगा। इन पंचायत चुनाव के लिए 71 हजार 398 वोटिंग केंद्र बनाये जाएगें।

Read – 2 Mins

पंचायत चुनाव में सदस्यों की संख्या 2021

  • जिला पंचायत सदस्य की संख्या: 859
  • जनपद पंचायत सदस्य की संख्या: 6727
  • ग्राम पंचायत के सरपंच की संख्या: 22581
  • ग्राम पंचायत के पंच की संख्या: 362754
  • वोटिंग केंद्र की संख्या: 71398

पंचायत चुनाव के प्रमुख चरण और तिथियां

मध्य प्रदेश पंचायत चुनाव कुल तीन चरणों में पूरे होगें, चुनाव से सम्बंधित महत्वपूर्ण तिथियाँ नीचे दी गई हैं –

पहले चरण में इन 9 जिलों में पंचायत चुनाव 6 जनवरी 2022 होगा

  • पहले चरण में 9 जिले: इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, निवाड़ी, दतिया, पन्ना, नरसिंहपुर, हरदा और अलीराजपुर
  • चुनाव के नामांकन फॉर्म मिलने की प्रथम तिथि और अंतिम तिथि: प्रथम चरण के पंचायत चुनाव के लिए 13 दिसंबर 2021 से 20 दिसंबर तक नामांकन पत्र मिलेंगे।
  • चुनाव के नामांकन पत्रों की जांच: 21 दिसंबर को 10:30 बजे से होगी।
  • कैंडिडेट के नाम वापसी: 23 दिसंबर को दोपहर 3 बजे तक नाम वापस लिए जा सकेंगे।
  • कैंडिडेट की लिस्‍ट: नाम वापसी के बाद चुनाव लड़ने वाले कैंडिडेट की लिस्‍ट तैयार होगी।
  • कैंडिडेट के चुनाव चिन्हों का आवंटन: लिस्‍ट तैयार होने के बाद कैंडिडेट को चुनाव चिन्ह आवंटित किए जाएंगे।
  • प्रथम चरण: प्रथम चरण में 6283 ग्राम पंचायतों और 313 जनपदों में चुनाव होगा।
  • मतदान केंद्र: प्रथम चरण में 19998 मतदान केंद्र बनाए जाएंगे।
  • मतदाता: 6 जनवरी 2022 को मतदान करेंगे।

दूसरे चरण में इन 7 जिलों में पंचायत चुनाव 28 जनवरी 2022 होगा

  • दूसरे चरण में 7 जिले: श्योपुर, जबलपुर, सिंगरौली, उमरिया, अनूपपुर, बुरहानपुर, और देवास में चुनाव होगा
  • चुनाव के नामांकन फॉर्म मिलने की प्रथम तिथि और अंतिम तिथि: दूसरे चरण के पंचायत चुनाव के लिए 13 दिसंबर 2021 से 20 दिसंबर तक नामांकन पत्र मिलेंगे।
  • चुनाव के नामांकन पत्रों की जांच: 21 दिसंबर को 10:30 बजे से होगी।
  • कैंडिडेट के नाम वापसी: 23 दिसंबर को दोपहर 3 बजे तक नाम वापस लिए जा सकेंगे।
  • कैंडिडेट की लिस्‍ट: नाम वापसी के बाद चुनाव लड़ने वाले कैंडिडेट की लिस्‍ट तैयार होगी।
  • कैंडिडेट के चुनाव चिन्हों का आवंटन: लिस्‍ट तैयार होने के बाद कैंडिडेट को चुनाव चिन्ह को आवंटित किया जाएंगे।
  • मतदाता: मतदाता 28 जनवरी 2022 को मतदान करेंगे।

तीसरे चरण में इन 36 जिलों में पंचायत चुनाव 16 फरवरी 2022 होगा

  • तीसरे चरण में 9 जिले: राजगढ़, रायसेन, सीहोर, विदिशा, सागर, छतरपुर, दमोह, टीकमगढ़, रीवा, सीधी, सतना, कटनी, शहडोल, खरगोन, खंडवा, धार, झाबुआ, बड़वानी, गुना, शिवपुरी, अशोकनगर, छिंदवाड़ा, सिवनी, बालाघाट, मंडला, डिंडौरी, उज्जैन, नीमच, रतलाम, शाजापुर, आगर-मालवा, मंदसौर, होशंगाबाद, बैतूल, भिंड, मुरैना
  • चुनाव के नामांकन फॉर्म मिलने की प्रथम तिथि और अंतिम तिथि: दूसरे चरण के पंचायत चुनाव के लिए 30 दिसंबर 2021 से 6 जनवरी 2022 तक नामांकन पत्र मिलेंगे।
  • चुनाव के नामांकन पत्रों की जांच: 7 जनवरी सुबह से 10:30 बजे से तक होगी।
  • कैंडिडेट के नाम वापसी: 10 जनवरी को दोपहर 3 बजे तक नाम वापस लिया जायेगा।
  • कैंडिडेट की लिस्‍ट:10 जनवरी नाम वापसी के बाद चुनाव लड़ने वाले कैंडिडेट की लिस्‍ट तैयार होगी।
  • कैंडिडेट के चुनाव चिन्हों का आवंटन: लिस्‍ट तैयार होने के बाद कैंडिडेट को चुनाव चिन्ह को आवंटित किया जाएंगे।
  • मतदाता: मतदाता 16 फरवरी 2022 को मतदान करेंगे।

मध्य प्रदेश की 114 ग्राम पंचायतों में मार्च 2022 में होंगे पंचायत चुनाव

मध्‍य प्रदेश की 114 पंचायतों का पंचवर्षीय कार्यकाल मार्च महीने 2022 में पूरा होगा। इन पंचायत के चुनाव पंचवर्षीय कार्यकाल पूरा होने के बाद ही कराए जाएंगे। हालांकि, जनपद पंचायत और जिला पंचायत सदस्यों का चुनाव इसी समय कराया जाएगा।

पंचायत चुनाव की जमानत राशि

  • पंचायत चुनाव में जिला पंचायत सदस्य के लिए नामांकन राशि 8000 होगी।
  • चुनाव में जनपद सदस्‍य के लिए 4000 होगी।
  • चुनाव में ग्राम पंचायत सरपंच के लिए 2000 होगी।
  • पंचायत चुनाव ग्राम पंचायत पंच के लिए 400 होगी।
  • SC ST और OBC, महिलाओं को निर्धारित से आधी ही राशि होगी।
  • पंचायत चुनाव के नामांकन पत्र दाखिल करने जाते समय कैंडिडेट अपने साथ दो या दो से अधिक लोग को ले जा सकते हैं।
  • पंचायत चुनाव के संबंध में शासकीय कार्यालय जाते समय कैंडिडेट दो वाहनों का ही प्रयोग कर सकेंगे।

एमपी में मतदान केंद्र और मतदाताओं की संख्या

  • मध्‍य प्रदेश में कुल 3 करोड़ 92 लाख 51 हजार 811 मतदाता हैं।
  • एमपी में पुरुष मतदाता 2 करोड़ 02 लाख 30 हजार 95 है।
  • महिला मतदाता 1 करोड़ 90 लाख 20 हजार 672 है और अन्य मतदाता 1044 हैं।
  • एमपी में 71 हजार 398 मतदान केंद्र होंगे।
  • पूरे राज्‍य में पंचायत चुनाव के लिए 4.25 लाख कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाएगी।

पंचायत चुनाव की तैयारी

ग्राम पंचायत चुनाव को राज्य चुनाव के फाइनल के तौर पर देखा जा रहा है। पंच एवं सरपंच पद के लिए चुनाव “परंपरागत मतदान” के जरिये और जनपद पंचायत सदस्य एवं जिला पंचायत सदस्यों के प्रति चुनाव “इलेक्ट्रिक वोटिंग मशीन / EVM” के माध्यम से पूर्ण होगा।

वोटिंग समय सारिणी

वोटिंग का समय सुबह 7 बेजे से लेकर शाम 3 बजे तक होगा। राज्य में इन चुनावों को लेकर कड़ी सुरक्षा कि जाएगी। इस चुनाव में राजनीतिक पार्टियों के चिह्न के अनुसार चुनाव नहीं लड़ा जाता है बल्कि उनके सहयोगी कैंडिडेट मैदान में उतरते हैं।

चुनाव का परिणाम कब आएगा

चुनाव आयोग के अनुसार सभी मतदान केन्द्र पर ही ‘पंच और सरपंच पद के लिये मतगणना’ मतदान समाप्त होने के बाद तुरंत की जाएगी।

जनपद पंचायत सदस्य एवं जिला पंचायत सदस्य की सभी विकासखण्ड मुख्यालय पर EVM से मतगणना –

  • प्रथम चरण के लिये 10 जनवरी
  • द्वितीय चरण के लिये 1 फरवरी और
  • तृतीय चरण चुनाव के लिये 20 फरवरी 2022 को सुबह 8 बजे से की जाएगी।

चुनाव घोषणा होते ही ग्रामीण क्षेत्रों में आचार संहिता प्रभावी हो गई है, जो कि चुनाव परिणाम घोषित होने तक प्रभावशील रहेगी।

Leave a Comment

Shopping Cart