National Civil Service Day: राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस इतिहास और महत्व जो आपको पता होना चाहिए

National Civil Service Day 2022: इतिहास और महत्व जो आपको पता होना चाहिए

Share this article

National Civil Service Day 2022: प्रत्येक वर्ष 21 अप्रैल की तारीख को राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस मनाया जाता है क्योंकि यह देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल द्वारा नव नियुक्त प्रशासनिक सेवा अधिकारियों को दिए गए ऐतिहासिक संबोधन की वर्षगांठ का प्रतीक है।

भारत की केंद्र सरकार द्वारा प्रत्येक साल, 21 अप्रैल को राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस (National Civil Service Day) के रूप में चिह्नित किया जाता है। यह दिन पूरी तरह से विभिन्न विभागों में भारत के सिविल सेवकों को समर्पित है। राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस लोक प्रशासन में इन अधिकारियों के योगदान को प्रतिग्रिहीत करता है।

राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस 21 अप्रैल को क्यों मनाया जाता है? | Why is National Civil Service Day observed on 21 April?

21 अप्रैल की तारीख को राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस मनाने के लिए चुना गया था क्योंकि यह देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल द्वारा नव नियुक्त प्रशासनिक सेवा अधिकारियों को दिए गए ऐतिहासिक संबोधन की वर्षगांठ का प्रतीक है। पटेल ने 1947 में नई दिल्ली के मेटकाफ हाउस (Metcalf House) में भाषण दिया था।

लोगों ने इन विषयों को भी पढ़ा है –

इस ऐतिहासिक अवसर के दौरान, सरदार पटेल ने नवनियुक्त सिविल सेवकों को “भारत का स्टील फ्रेम” कहा था। उन्होंने अच्छे प्रशासन के लिए नियम और दिशा-निर्देश भी निर्धारित किए।

देश का पहला राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस कार्यक्रम 21 अप्रैल, 2006 को नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित किया गया था। तब से, यह समारोह एक वार्षिक समारोह बन गया है जो देश के विकास में सिविल सेवकों के योगदान का जश्न मनाता है।

राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस कैसे मनाया जाता है? | How is the National Civil Service Day celebrated?

एक आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, आज के दिन हर साल, लोक प्रशासन में उत्कृष्टता के लिए, “केंद्र और राज्य सरकारों के जिलों / संगठनों द्वारा किए गए असाधारण और अभिनव कार्यों को स्वीकार करने, पहचानने और पुरस्कृत करने के लिए” उन्हें प्रधान मंत्री पुरस्कार (Prime Minister’s Awards) प्रदान किए जाते हैं।

इस पुरस्कार समारोह में, सिविल सेवक एक साथ आते हैं और लोक प्रशासन के क्षेत्र में लागू की जा रही अच्छी प्रथाओं को सीखते हैं।

महत्व

राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस पर, केंद्र अपने निरीक्षण/समीक्षा के तहत विभिन्न विभागों के कार्यों पर चर्चा और मूल्यांकन करता है। ये पुरस्कार इस बात पर भी प्रकाश डालते हैं कि स्वतंत्रता के बाद से देश के विकास में सिविल सेवाओं ने कितना योगदान दिया है।

इन्हें भी पढ़े:

Leave a Comment