Spring Season in Hindi

Spring Season in Hindi | वसंत ऋतु की विशेषताएँ और महत्त्व – निबंध

Share this article

Spring Season in Hindi: भारत में सामान्यतः 6 ऋतुएँ होती हैं जिसमें बसंत ऋतु (Spring Season) एक मुख्य ऋतु है। इसे ऋतुओं का राजा भी कहा जाता है। बसंत ऋतु (Vasant Ritu) के आते ही मानो पूरी प्रकृति प्रसन्न हो जाती है और चारों ओर अपना सौंदर्य बिखेरने लगती है। यह ठंडी और गर्मी के बीच का समय होता है। आमतौर पर भारत में बसंत ऋतु का आगमन फरवरी से मार्च के मध्य होता है।

इस समय वातावरण में शीतलता का अनुभव होता है, नीलकंठ दिखाई देने लगते हैं और आम के पेड़ में गौर लगने लगते हैं। बसंत ऋतु (Spring Season) की विशेषता यह है कि यह जनवरी की कड़क ठंड को भगाकर मौसम में थोड़ी गर्माहट लाती है, इस समय फूल खिलने लगते हैं, पौधे हरे-भरे होने लगते हैं और बर्फ थोड़ी-थोड़ी पिघलने लगती है।

वसंत ऋतु (Spring Season in Hindi)

हिंदू पंचांग के अनुसार बसंत वर्ष के अंत और प्रारंभ में होता है यह माघ महीने की शुक्ल पंचमी से शुरू होता है और फागुन के आखिरी दिनों में समाप्त हो जाता है।

हमारे देश का एक मुख्य त्योहार होली है जो बसंत ऋतु (Spring Season) में मार्च के महीने में मनाया जाता है, इस समय न केवल लोग होली के रंग में डूब जाते हैं बल्कि धरा भी सरसों और अरहर के पीले फूलों से हरी भरी दिखाई देने लगती है। लोग इस समय बागों, उद्यानों और तालाबों में घूमने जाते हैं और बच्चे पतंग उड़ने में व्यस्त रहते हैं।

वसंत ऋतु का मतलब (Spring Season meaning in Hindi)

वसंत मतलब – “फूलों का गुच्छा” (A bunch of flowers)। इस प्रकार से यदि माने तो बसंत ऋतु का मतलब (Vasant ritu ka matlab) “फूलों और खुशिओं” का समय हैं। पौराणिक कथाओं में बसंत को कामदेव का पुत्र माना गया है कवि देव बसंत ऋतु (Spring Season) का वर्णन करते हुए कहते हैं कि प्रेम और सौन्दर्य के देवता कामदेव के घर पुत्र प्राप्ति का समाचार पाते ही संपूर्ण प्रकृति खुशियों से झूम उठती है और स्वयं के सौंदर्य को सजा लेती है।

Spring Season in Hindi - वसंत ऋतु (Vasant Ritu)

बसंत ऋतु (Spring Season) में कई प्रमुख और प्रसिद्द त्यौहार जैसे बसंत पंचमी, शिवरात्रि और होली इत्यादि बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाते हैं।

भारत में कितनी ऋतुएँ होती हैं (Types of season in India)?

भारत की जलवायु में बहुत विविधता पाई जाती है जो वर्ष के लगभग प्रत्येक 3 महीने के अंतराल में देखी जा सकती है। अधिकांशतः तीन ऋतुओं – ग्रीष्म ऋतु (Summer Season), वर्षा ऋतु (Monsoon Season) और शिशिर (Winter Season) को आम लोग ज्यादा जानते हैं क्योंकि इन ऋतुओं में मौसम में काफी बड़े बदलाव आते है लेकिन भारत में तीन से ज्यादा ऋतुएँ होती हैं, प्रत्येक ऋतु का अपना अलग सौंदर्य और अपनी अलग विशेषता होती है।

हमारे देश, भारत में मुख्य 6 ऋतुएँ होती हैं जिनके नाम निम्नलिखित हैं –

नाम (हिंदी)नाम (अंग्रेजी)माह
वसंत ऋतुSpringफरवरी – मार्च
ग्रीष्म ऋतुSummerअप्रैल – जून
वर्षा ऋतुMonsoonजुलाई – मध्य सितम्बर
शरद ऋतुAutumnसितम्बर – नवम्बर
हेमंत ऋतुWinterमध्य अक्टूबर – दिसम्बर
शिशिर ऋतुPre-winterदिसम्बर – जनवरी

भारत में वसंत ऋतु (Spring Season in India)

भारत में वसंत ऋतु (Spring Season) के आते ही यहाँ का प्राकृतिक सौन्दर्य खिल उठता है। रबी फसलें कृषि फसलें हैं जो सर्दियों में बोई जाती हैं और वसंत ऋतु (Vasant Ritu) में काटी जाती हैं। वसंत यहाँ के लोगों के दिल में खुशियाँ और उमंग लाता है, क्योंकि यह त्योहारों और शादियों का मौसम है। भारत में “वसंत राग” के साथ वसंत के आगमन का स्वागत किया जाता है।

हनुमान जयंती, रामनवमी, गुड फ्राइडे और ईस्टर जैसे अन्य महत्वपूर्ण त्योहार भी भारत में इसी मौसम में मनाए जाते हैं।

भारतीय साहित्य और कला में बसंत (Basant Ritu) को एक महत्वपूर्ण स्थान दिया गया है, भारतीय संगीत में एक विशेष राग बसंत के नाम पर बनाया गया है जिसे बसंत राग कहते हैं। वसंत के आते ही लोग घरों में सायं काल से रात्रि के पहले प्रहर तक बसंत राग गाकर आनंद लेते हैं।

वसंत ऋतु की विशेषताएं (Characteristics of Spring Season in Hindi)

वसंत ऋतु (Vasant Ritu) प्रकृति के साथ-साथ मनुष्य के शारीरिक और मानसिक स्वस्थ्य को पोषण को देती है। इस समय न ठंड ज्यादा रहती न गर्मी ज्यादा रहती बल्कि प्रकृति, वातावरण के तापमान में एक विशेष संतुलन बनाये रखती है जो जीव-जंतुओं के स्वस्थ्य के लिए लाभदायी होता है। वसंत ऋतु की कुछ और भी विशेषताएं हैं जो निम्नलिखित हैं –

  • इस समय दिन और रात समान होते हैं।
  • वसंत के समय विभिन्न प्रकार के फूल खिलने लगते हैं और जानवर वंशवृद्धि करते हैं।
  • इस ऋतु में प्रकृति नवविवाहिता दुल्हन की तरह सजी हुई लगती है, आम के पेंड गौर से लगने लगते हैं।
  • बसंत ऋतु अपने साथ मौसम में सुखद गर्माहट लाती है, इस समय ग्लेशियर पिघलने लगते हैं।
  • इस समय प्रकृति की सुन्दरता को देखकर लोगों को भौतिक और मानसिक सुख मिलता है।

वसंत ऋतु का महत्त्व (Importance of Vasant Ritu)

यह ऋतु प्रेम, आशा, यौवन और विकास से जुड़ी है। यह विभिन्न प्रकार की गतिविधियों का मौसम है। साल के इस समय में सबसे सुखद मौसम होता है। यह किसानों के लिए सबसे महत्वपूर्ण मौसम है। वसंत ऋतु में किसान खुश दिखते हैं क्योंकि कड़े श्रम और लंबे इंतजार के बाद फसल कटाई के लिए तैयार हो जाती है।

सभी मौसमों के राजा, वर्ष के इस समय में बहुत सारी गतिविधियाँ शामिल हैं। वसंत वर्ष का सबसे अच्छा मौसम है, चाहे आप कहीं भी हों। यह मौसम अपने साथ खुशियां और उल्लास लेकर आता है। वसंत का मौसम युवाओं, प्रेम और आशा का प्रतिनिधित्व करता है। यह कई गतिविधियों के लिए एकदम सही मौसम है, इस समय शादी-विवाह के कार्यक्रमों से घरों में धूम मची रहती है। इस समय मौसम सबसे सुखद होता है, वास्तव में इसीलिए वसंत ऋतुओं के राजा के रूप में जाना जाता है।

यह पुनर्जन्म और प्राकृतिक दुनिया के नवीनीकरण का समय है। यह प्रकृति को उसकी नींद से जगाता है और उसे फिर से सक्रिय बनाता है, जिससे धरा पर नया जीवन आता है।

कुल मिलाकर, वसंत हर जगह सबसे खूबसूरत मौसम है। नतीजतन, वसंत लोगों के जीवन को खुशी और उम्मीद से भर देता है।

वसंत ऋतु (Vasant Ritu) से सम्बंधित प्रश्न और उत्तर

वसंत ऋतु को अंग्रेजी में क्या कहते हैं?

वसंत ऋतु को अंग्रेजी में Spring Season कहते हैं (Vasant ritu is known as Spring Season in Hindi).

हर साल वसंत ऋतु कब आती है?

बसंत ऋतु (Vasant Ritu) सर्दी और गर्मी के बीच आती है। यह ठिठुरती हुई सर्दियों को भगाकर गर्मियों की शुरुआत करती है। वसंत ऋतु भले ही थोड़े समय के लिए आती है, लेकिन इसे सभी ऋतुओं का राजा कहा जाता है।

वसंत ऋतु क्या दर्शाती है?

वसंत ऋतु जीवन, प्रेम, आशा, यौवन और विकास का प्रतिनिधित्व करती है। यह विभिन्न प्रकार की गतिविधियों का मौसम है। साल के इस समय में सबसे सुखद मौसम होता है। सभी मौसमों के राजा, वर्ष के इस समय में बहुत सारी गतिविधियाँ शामिल हैं।

बसंत के मौसम में कौन सी विटामिन से भरपूर सब्जियां उगती हैं?

यह साल का वह समय होता है जब विविध विटामिन युक्त सब्जियां खेतों में चारो तरफ दिखाई देती हैं। उदाहरण के लिए जैसे – शतावरी, पत्ता गोभी (Kale) और मटर इत्यादि।

किसानों के लिए वसंत क्यों महत्वपूर्ण है?

किसानों के लिए वसंत महत्वपूर्ण है क्योंकि लंबे इंतजार और कई महीनों के कठिन परिश्रम के बाद फसल कटाई के लिए तैयार हो जाती है। रबी फसलें कृषि फसलें हैं जो सर्दियों में बोई जाती हैं और वसंत ऋतु में काटी जाती हैं।

वसंत ऋतु में कौन-कौन से त्यौहार मनाये जाते हैं?

वसंत को त्योहारों का और शादियों की ऋतु भी कहा गया है, इस समय घरों में शादियाँ होती हैं और चहल-पहल का माहौल रहता है। वसंत के मौसम में, कई प्रसिद्द और बड़े त्यौहार मनाये जाते हैं जैसे –

  • होली
  • बैसाखी
  • पोंगल
  • बिहु
  • गुड फ्राइडे
  • राम नवमी
  • हनुमान जयंती इत्यादि।

वसंत ऋतु पर निबंध (Essay / Nibandh) कैसे लिखें?

वसंत ऋतु पर निबंध (Essay on Spring Season) लिखने के लिए आप इस लेख का उपयोग करे सकते हैं। इसे आप बसंत ऋतु पर लिखा गया निबंध (Nibandh) मान सकते हैं क्योंकि इस लेख में हमारे विशेषज्ञ द्वारा वसंत ऋतु (Spring Season in Hindi / Basant Ritu) का समुचित वर्णन किया गया है।

इन्हें भी लोगों ने पढ़ा है –

NCERT Infrexa – Essay on spring season in Hindi

इस लेख में हमने आपको वसंत ऋतु (Vasant ritu / Spring Season in Hindi), बसंत ऋतु का महत्त्व (Importance of Spring Season in Hindi), बसंत ऋतु की विशेषताएं (Characteristics of Spring Season in Hindi), बसंत ऋतु पर निबंध (essay on spring season in hindi) इत्यादि के बारे में विस्तार पूर्वक बताया, यदि आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे अपने मित्रों और परिवारजनों के साथ जरूर साझा करें।

Leave a Comment