NCERT Infrexa

1 लीटर पानी का वजन कितना होता है?

पानी का वजन

पानी का वजन

पानी का वजन: हर चीज को किलोग्राम में तौलने की अधिकांश लोगों की आदत है। वह 1 किलो या आधा किलो वजन को तो जल्दी समझ जाते हैं लेकिन जब लीटर की बात आती है तो उन्हें कहीं-न-कहीं उस चीज के वजन को लेकर संदेह हो जाता है।

जैसे यदि कोई कह दे कि – 1 लीटर पेट्रोल या पानी का वजन कितना होता है तो अधिकांश लोग सोच में पड़ जाएंगे।

1 किलो पानी और 1 लीटर पानी में क्या अंतर है?

1 किलो पानी और 1 लीटर पानी में अंतर समझने के लिए सबसे पहले आपको समझना पड़ेगा कि किलोग्राम और लीटर दोनों ही मापन की अलग-अलग यूनिट है।

किलोग्राम किसी वस्तु के द्रव्यमान को मांपता है जबकि लीटर किसी वस्तु के आयतन को मापता है। इसलिए यदि कोई आपसे पूँछ दे कि – 1 लीटर तेल या पानी का वजन कितना होता है तो घबराइए नहीं बल्कि उसके प्रश्नों का उत्तर दीजिए।

द्रव्यमान क्या है?

द्रव्यमान किसी वस्तु के जड़त्व की माप होता है। जिस वस्तु का जड़त्व (inertia) जितना अधिक होता है, उसका द्रव्यमान भी उतना ही अधिक होता है। दरअसल किसी वस्तु का द्रव्यमान सदैव एक बराबर ही रहता है चाहे वह पृथ्वी पर रहे या चंद्रमा पर।

भार क्या है? हमें पता है कि पृथ्वी प्रत्येक वस्तु को अपनी ओर आकर्षित करती है। इस आकर्षण को विज्ञान की भाषा में गुरुत्वाकर्षण बल करते हैं। यह बल निश्चित होता है जो वस्तु के द्रव्यमान (Mass) और गुरुत्व बल के त्वरण (g) पर निर्भर करता है।

द्रव्यमान और भार में क्या अंतर है? द्रव्यमान किसी वस्तु के जड़त्व की माप होता है जबकि किसी वस्तु का भार – “वह बल है जिससे यह पृथ्वी के केंद्र की ओर आकर्षित होती है

इसलिए यह कहा जा सकता है कि – किसी वस्तु का “भार वह बल है जिससे यह पृथ्वी के केंद्र की ओर आकर्षित होती है”। इस बल का गणितीय मान –

F = mg

जहाँ,

F = बल (force)

m = द्रव्यमान (mass)

g = गुरुत्वीय बल (gravity force = 9.8 m/s^2)

इस भार को ही सामान्य भाषा में वजन कहा जाता है।

वहीं अगर बात करें आयतन की तो यह भार से बिल्कुल आसमान होता है।

2 मिनट में इसे भी पढ़ें

आयतन क्या है?

सामान्य तौर पर – “कोई वस्तु जितना स्थान घेरती है उसे उसका आयतन कहते हैं”। आयतन में किसी वस्तु की लंबाई, चौड़ाई और ऊंचाई को देखा जाता है। इस बात का विशेष ध्यान रखें कि – किसी वस्तु के आयतन के निर्धारण में पृथ्वी द्वारा अधिरोपित गुरुत्वाकर्षण बल या वस्तु के द्रव्यमान की कोई भूमिका नही होती।

चलिए अब तक तो आप समझ ही गए होंगे कि वजन और आयतन यानी कि किलोग्राम और लीटर दोनों में क्या अंतर है। आइए अब हम आपको बताते हैं कि 1 लीटर पानी का वजन कितना होता है।

1 लीटर पानी का वजन

एक लीटर में कितने किलोग्राम होते हैं इसका कोई कोई निश्चित उत्तर नहीं है क्योंकि – 1 लीटर में कितने किलोग्राम होगें, यह उस पदार्थ के घनत्व पर निर्भर करता है ।

1 लीटर पानी का वजन: अब यदि पानी की बात करें तो 39.2 सेंटीग्रेड तापमान पर पानी का घनत्व 1 किलोग्राम प्रति लीटर है, इसका मतलब 1 लीटर पानी का वजन 1 किलोग्राम ही होता है।

चूँकि 1 लीटर में कितने किलोग्राम होगें, यह उस पदार्थ के घनत्व पर निर्भर करता है। इसलिए जरूरी नहीं कि 1 लीटर मरकरी या 1 लीटर पेट्रोल का वजन भी 1 किलोग्राम ही हो क्योंकि मरकरी और पेट्रोल का घनत्व, पानी के घनत्व के बराबर नही होता है।

इसे भी पढ़ें: यदि आप भारतीय लोक सेवा परीक्षा की तैयारी कर बड़े अधिकारी बनना चाहते हैं तो सबसे पहले इन किताबों को पढ़िए। इस पेज में UPSC IAS की परीक्षा के लिए सबसे महत्त्वपूर्ण किताबों की सूची हैं।

ऐसे ही कुछ और प्रश्न जो अक्सर पूंछे जाते हैं

प्रश्न 1: एक लीटर मरकरी में कितने किलोग्राम होते हैं?

एक लीटर मरकरी में 13.5 किलोग्राम होतें हैं ।

प्रश्न 2: एक लीटर पेट्रोल में कितने किलोग्राम होते हैं?

एक लीटर पेट्रोल में 963 किलोग्राम होतें हैं ।

प्रश्न 3: एक लीटर पानी का वजन एक ही किलो क्यों होता है?

द्रव्यमान और आयतन का सम्बन्ध इस फोर्मुले से निकला जा सकता है।

आयतन = द्रव्यमान/घनत्व

अर्थात,

द्रव्यमान = आयतन x घनत्व

ऊपर दिए गये फार्मूले से देखा जा सकता है कि द्रव्यामान किसी वस्तु के घनत्व पर प्रत्यक्ष रूप से निर्भर करता है। पानी का घनत्व लगभग 1000 किलोग्राम/घन मीटर होता है और एक घन मीटर 1000 लीटर के बराबर होता है, इसलिए हम कह सकते हैं कि एक लीटर पानी का वजन 1 किलोग्राम ही होगा।

प्रश्न 4: एक लीटर डीजल कितने किलो के बराबर होता है?

एक लीटर डीजल लगभग 0.835 किलोग्राम के बराबर होता है।

Exit mobile version