चंद्रमा पर कौन-कौन गया है | Chand par kon kon gaya hai

Chand par kon kon gaya hai | चंद्रमा पर कौन-कौन गया है?

Share this article

चंद्रमा पर कौन-कौन गया है (Chand par kon kon gaya hai): 20 जुलाई सन् 1969, आज से लगभग 50 साल पहले मनुष्य जाति ने चांद पर अपना पहला कदम रखा था। इस मिशन का नाम अपोलो 11 था।

इस लेख में हम आपको बतायेंगे कि अभी तक में चाँद पर कौन-कौन गया है (Chand par kon kon gaya hai), और उनके नाम और उनकी राष्ट्रीयता क्या हैं। हम आपको ये भी बतायेंगे की क्या वे अभी जीवित हैं और यदि हाँ तो वो कहाँ रहते हैं और अभी क्या करते हैं।

चंद्रमा पर ले जाने वाले इस मिशन अपोलो 11 ने आगे आने वाले दशकों में अंतरिक्ष में होने वाले सभी प्रकार के अनुसंधानों के लिए दरवाजे खोल दिए। इस मिशन के जरिये नील आर्मस्ट्रांग चांद पर कदम रखने वाले पहले व्यक्ति बने

अपोलो 11 से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी

संस्था का नामनासा
मिशन का नामअपोलो 11
वर्ष20 जुलाई सन् 1969
वैज्ञानिक का नामनील आर्मस्ट्रांग
देश का नामसंयुक्त राष्ट्र अमेरिका
Chand par kon kon gaya hai

चाँद पर कौन-कौन गया है, उन सभी के नाम क्या हैं ? (Chand par kon kon gaya hai aur unke naam kya hain)

चंद्रमा पर अपोलो के कुल 11 मिशन में 27 अंतरिक्ष यात्री चांद तक पहुंचे थे जिनमें से 24 ने चांद का चक्कर लगाया था, लेकिन केवल 12 ही ऐसे व्यक्ति थे, जिन्होंने चांद की सतह पर कदम रखा था। आइए जानते हैं, चांद पर कदम रखने वाले व्यक्तियों के नाम-

वैज्ञानिक नाममिशनदिनांक
नील आर्मस्ट्रांग अपोलो 1120 जुलाई सन् 1969
बाज एल्ड्रिन अपोलो 1120 जुलाई सन् 1969
पीठ काॅनराड अपोलो 1219-20 नवंबर सन् 1969
एलन बीन अपोलो 1219-20 नवंबर सन् 1969
एलन शेपर्ड अपोलो 145-6 फरवरी सन् 1971
एडगर मिशेल अपोलो 145-6 फरवरी सन् 1971
डेविड स्कॉट अपोलो 1531 जुलाई से 2 अगस्त सन् 1971
जेम्स इरविन अपोलो 1531 जुलाई से 2 अगस्त सन् 1971
जाॅन यंग अपोलो 1621 से 23 अप्रैल सन् 1972
चार्ल्स ड्यूक अपोलो 1621 से 23 अप्रैल सन् 1972
हैरिसन शमिट अपोलो 1711 से 14 दिसंबर सन् 1972
जीन सर्नन अपोलो 1711 से 14 दिसंबर सन् 1972
Chand par kon kon gaya hai

1. नील आर्मस्ट्रांग (Neil Armstrong)

आर्मस्ट्रांग (Neil Armstrong) दुनिया के पहले व्यक्ति हैं जो चांद पर 20 जुलाई 1969 को अपोलो 11 मिशन से चांद (Moon) पर गए थे। नील आर्मस्ट्रांग अमेरिकन नागरिक थे। वे एक वैमानिक इंजिनियर, नौसेना पायलट और आर्मस्ट्रांग अपोलो 11 के कमांडर थे।

अपोलो 11 मिशन सफल होने के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति निक्सन ने अपने हाथ से नील आर्मस्ट्रांग को Presidential Medal of Freedom से पुरस्कृत किया था। उसके बाद साल 1978 में अमेरिका के राष्ट्रपति जिमी कार्टर ने Congressional Space Medal of Honor से भी उन्हें सम्मानित किया था। नील आर्मस्ट्रांग नासा के लिए काम करते थे और साल 1971 में सेवानिवृत्त हो गए थे।

नील आर्मस्ट्रांग का जन्म 5 अगस्त सन् 1930 को वापकोनेटा (Wapakoneta) अमेरिका में हुआ था। इनके माँ का नाम वायला लुई एंजेल और पिता का नाम स्टीफेन आर्मस्ट्रांग था। नील आर्मस्ट्रांग की मृत्यु 25 अगस्त सन् 2012 को सिनसिनाटी (Cincinnati) में हुई थी, उस समय नील आर्मस्ट्रांग की आयु 82 वर्ष थी।

2. बाज एल्ड्रिन ( Buzz Aldrin)

बाज एल्ड्रिन (Buzz Aldrin) दुनिया के दूसरे व्यक्ति हैं जो 20 जुलाई 1969 को अपोलो 11 के साथ नील आर्मस्ट्रांग के साथ अन्तरिक्ष गए। बाज एल्ड्रिन अमेरिकन नागरिक थे। वे एक वैमानिक इंजिनियर और आर्मस्ट्रांग के साथ अपोलो 11 के ल्यूनर मोड्यूल कमांडर थे। बाज एल्ड्रिन (Buzz Aldrin) का जन्म 20 जनवरी सन् 1930 को Glen Ridge अमेरिका में हुआ था। वो इस समय फ्लोरिडा में रहते हैं।

सन् 2016 की बात है जब बाज एल्ड्रिन 86 वर्ष के थे उस समय वे दक्षिणी ध्रुव तक पहुंच गए थे। वे इस मुकाम को हासिल करने वाले दुनिया के सबसे ज्यादा आयु के व्यक्ति थे। बाज एल्ड्रिन की एक बात मीडिया जगत में एक बड़ी चर्च का विषय का बनी, दरअसल उन्होंने दक्षिण ध्रुव पहुंचने के बाद कहा था कि “हमने मौत को बेहद करीब से देखा”।

3. पीट कॉनराड (Pete Conrad)

पीट कॉनराड (Pete Conrad) दुनिया के तीसरे व्यक्ति हैं जो चंद्रमा पर 19-20 नवंबर सन् 1969 में अपोलो 12 मिशन से चांद (Moon) पर गए थे। पीट कॉनराड अमेरिकी नागरिक थे। वे एक वैमानिक इंजिनियर और अपोलो 12 के कमांडर थे।

पीट कॉनराड सन् 1973 में नासा से रिटायर्ड हो गए इसके बाद एक बिजनेसमैन के रूप में कार्य करने लगे थे। पीट कॉनराड का जन्म 2 जून सन् 1930 को अमेरिका के Philadelphia में हुआ था।

8 जुलाई सन् 1999 में दुर्घटना की वजह से उनकी मृत्यु हुई थी। उस समय में पीट कॉनराड की आयु 69 वर्ष थी।

4. एलन बीन (Alan Bean)

एलन बीन दुनिया के चौथे व्यक्ति है जिन्होंने 19-20 नवंबर सन् 1969 में अपोलो 12 मिशन के जरिये चांद पर पर कदम रखा था। एलन बीन एयरोनॉटिकल इंजीनियर, नौसेना अधिकारी और अपोलो 12 के पायलट भी थे।

Alan Bean नासा के लिए काम करते थे और साल 1981 में रिटायर्ड हो गए थे। ये भी अमेरिकन नागरिक थे। एलन बीन का जन्म 15 जून सन् 1932 को अमेरिका के Wheeler, Texas में हुआ था तथा 86 वर्ष की आयु में 26 मई सन् 2018 में इनकी मृत्यु हो गई।

5. एलन शेपर्ड (Alan Shepard)

एलन शेपर्ड (Alan Shepard) दुनिया के पांचवें व्यक्ति हैं जो चंद्रमा पर 5-6 फरवरी सन् 1971 में अपोलो 14 मिशन से चांद (Moon) पर गए थे। Alan Shepard अमेरिकी नागरिक थे। वे एक वैमानिक इंजिनियर, नौसेना पायलट और अपोलो 14 के कमांडर थे। एलन शेपर्ड चंद्रमा पर कदम रखने वाले विश्व के पांचवें व्यक्ति थे।

Alan Shepard सन् 1974 में नासा से सेवानिवृत्त हो गए थे। एलन शेपर्ड का जन्म 18 जून सन् 1923 को Pebble Beach, Del Monte Forest, California अमेरिका में हुआ था। इनकी मृत्यु 21 जुलाई सन् 1988 में हुई थी, उस समय में Alan Shepard की आयु 86 वर्ष थी।

6. एडगर मिशेल (Edgar Mitchell)

एडगर मिशेल (Edgar Mitchell) विश्व के छठवें व्यक्ति हैं जो चांद पर 5-6 फरवरी 1971 को अपोलो 14 मिशन के दौरान चंद्रमा पर गए थे। एडगर मिशेल अमेरिका के नागरिक थे। वे एक वैमानिक इंजिनियर और एडगर मिशेल अपोलो 14 के कमांडर थे।

एडगर मिशेल सन् 1972 में नासा से रिटायर्ड हो गए थे। एडगर मिशेल का जन्म 17 सितम्बर सन् 1930 को Hereford, Texas अमेरिका में हुआ था। इनकी मृत्यु 04 जुलाई सन् 2016 में हुई थी। उस समय में Alan Shepard की आयु 85 वर्ष थी।

7. डेविड स्कॉट (David Scott)

डेविड स्कॉट (David Scott) विश्व के सातवें व्यक्ति हैं जिन्होंने चंद्रमा पर 31 जुलाई सन् 1971 में अपोलो 15 मिशन से चांद (Moon) पर कदम रखा था। डेविड स्कॉट अमेरिकी नागरिक थे। वे अंतरिक्ष यात्री और अपोलो 15 के वायु चालक भी थे। डेविड स्कॉट चंद्रमा पर कदम रखने वाले सातवें व्यक्ति बने थे।

David Scott सन् 1977 में नासा से सेवानिवृत्त हो गए थे। इनका जन्म 6 जून सन् 1932 को अमेरिका के San Antonio Texas में हुआ था। David Scott इस दौरान कैलिफोर्निया के लॉस एंजिलिस में रहते हैं। उनकी आयु इस समय 89 वर्ष हो चुकी है।

8. जेम्स इरविन (James Irwin) – Chand par kon kon gaya hai

जेम्स इरविन (James Irwin) दुनिया के आठवें व्यक्ति हैं जो 31 जुलाई सन् 1971 में अपोलो 15 मिशन के दौरान चांद (Moon) पर गए थे। जेम्स इरविन अमेरिकी नागरिक थे। वे वैमानिक इंजिनियर और अपोलो 15 के कमांडर थे। James Irwin चांद पर कदम रखने वाले विश्व के आठवें व्यक्ति बने थे।

जेम्स इरविन सन् 1972 में नासा से रिटायर्ड हो गए थे। James Irwin का जन्म 17 मार्च सन् 1930 को अमेरिका के पिट्सबर्ग, पेंसिल्वेनिया में हुआ था। 8 अगस्त सन् 1971 में हार्ट अटैक की वजह से उनकी मृत्यु हुई थी।

9. जॉन यंग (John Young)

जॉन यंग (John Young) विश्व के नौवें व्यक्ति हैं जो चंद्रमा पर 16 अप्रैल सन् 1972 में अपोलो 16 मिशन से चंद्रमा (Moon) पर गए थे। John Young अमेरिकी नागरिक थे। वे चंद्रयान यात्री, वैमानिक इंजिनियर और अपोलो 16 के कमांडर थे। जाॅन यंग चांद पर कदम रखने वाले विश्व में नौवें व्यक्ति बने थे।

जाॅन यंग ने अपोलो 16 के अलावा भी जैसे – Gemini 3, Gemini, Apollo 10, STS-1 और STS-9 में अंतरिक्ष यात्रा की थी। John Young का जन्म 24 सितंबर सन् 1930 को अमेरिका के सन फ्रांसिस्को, कैलिफोर्निया में हुआ था। इनकी मृत्यु 5 जनवरी सन् 2018 में हुई थी।

10. चार्ल्स ड्यूक (Charles Duke) – Chand par kon kon gaya hai

चार्ल्स ड्यूक (Charles Duke) दुनिया के दसवें व्यक्ति हैं जो चंद्रमा पर 21 अप्रैल सन् 1972 में अपोलो 16 मिशन से चांद (Moon) पर गए थे। वे वैमानिक इंजिनियर और अंतरिक्ष यात्री थे। चार्ल्स ड्यूक ने चांद पर कदम रखने वाले विश्व में दसवें व्यक्ति बने थे। चार्ल्स ड्यूक अमेरिकी नागरिक थे।

चार्ल्स ड्यूक नासा से रिटायर्ड होने के बाद संयुक्त राष्ट्र अमेरिका के जेल विभाग में कार्य करने लगे थे। Charles Duke का जन्म 3 जून सन् 1935 को अमेरिका के शार्लोट उत्तरी कैरोलिना में हुआ था। चार्ल्स ड्यूक इस समय 86 वर्ष के हो गए हैं।

11. यूजीन सेरनन (Eugene Cernan)

यूजीन सेरनन (Eugene Cernan) दुनिया के ग्यारहवें व्यक्ति हैं जिन्होंने 11 से 14 दिसंबर सन् 1972 में अपोलो 17 मिशन के दौरान चांद पर कदम रखा। जेम्स इरविन अमेरिकी नागरिक थे। वे वैमानिक इंजिनियर और यात्री अंतरिक्ष थे। Eugene Cernan चांद पर कदम रखने वाले विश्व में ग्यारहवें बने थे।

यूजीन सेरनन सन् 1976 में नासा से रिटायर्ड हो गए थे। Eugene Cernan का जन्म 14 मार्च 1934 को अमेरिका के शिकागो, इलिनोयस में हुआ था। यूजीन सेरनन की मृत्यु 16 जनवरी सन् 2017 को स्थान सिह्यूस्टन टेक्सास में हुई थी।

12. हैरिसन श्मिट (Harrison) – Chand par kon kon gaya hai

हैरिसन श्मिट (Harrison Schmitt) दुनिया के बारहवें व्यक्ति हैं जिन्होंने चंद्रमा पर 11 से 14 दिसंबर सन् 1972 में अपोलो 17 मिशन से चंद्रमा पर कदम रखा था। हैरिसन श्मिट अमेरिकी नागरिक थे। वे एक वैमानिक इंजिनियर, नौसेना पायलट और अपोलो 17 के कमांडर भी थे। Harrison Schmitt चंद्रमा पर कदम रखने वाले दुनिया में बारहवें व्यक्ति बने थे।

हैरिसन श्मिट सन् 1975 में नासा से सेवानिवृत्त हो गए थे। Harrison Schmitt का जन्म 3 जुलाई सन् 1935 को अमेरिका के सांता रीटा, न्यू मैक्सिको में हुआ था। इनकी आयु इस समय 86 वर्ष हो गई है।

NCERT infrexa

इसे भी पढ़ें –

Leave a Comment